Home छत्तीसगढ़ अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण में सहयोग और समय देने का लिया संकल्प

बिलासपुर । अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण में देश के कोने-कोने से निधी सहयोग के लिए लोग अपना-अपना सहयोग देने के लिए आगे आ रहे हैं, बिलासपुर शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र के तमाम गांवों में इसे देखा लोगों के बीच जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है। लगभग प्रत्येक परिवार और समाज इसमें अपना योगदान देने और अयोध्या में भगवान श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण के लिए समर्पण भाव से आगे आ रहे हैं। आज उसी परिपेक्ष्य में बिलासपुर शहर में भी दोपहर 2 बजे श्री राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र निधि समर्पण समिति के जिला कार्यालय का पूजन एवं उद्धघाटन व्यापार बिहार स्थित एम गैलेरिया (गोल्डन जिम के नीचे) में हुआ.। इसमें विभिन्न क्षेत्रों से बड़ी संख्या में श्री राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र निधि समर्पण समिति की जिला इकाई के पदाधिकारी बड़ी संख्या में मौजूद रहे। इनमें व्यापार, समाज सेवा, चिकित्सा, शिक्षा, समेत विभिन्न क्षेत्रों से पहुंचे प्रबुद्धजनों शामिल थे। इन सभी ने अयोध्या में प्रस्तावित प्रभु श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण हेतु अपनी ओर से अधिक से अधिक समय और योगदान देने का संकल्प लिया। समिति के रौशन सिंह ने बताया कि उपस्थित लोगों ने तन मन धन से श्री राम मंदिर में सहयोग के लिये एकजुटता के साथ आवाज बुलंद क करने की बात कही और एकमतेन यह विचार व्यक्त किया कि ऐसे सभी लोग परम सौभाग्यशाली हैं जिनको प्रभु श्री राम के मंदिर निर्माण और निधि समर्पण जैसे कार्य से जुडऩे का अवसर मिला है। बैठक के दौरान जिला समिति से जुड़े वरिष्ठजनों ने अपने विचार और सुझाव सबके समक्ष रखे।इस गौरवमयी पल के समय सर्वश्री, काशीनाथ गोरे, डॉक्टर विनोद तिवारी, प्रफुल्ल शर्मा,डॉ ललित मखीजा, बृजेश शुक्ला संजीव गुप्ता, राजू खुशलानी, राजीव शर्मा, विनोद मेघानी,शशि कोन्हेर,बालचंद जायसवाल, डॉ पवन अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, मनीष कुमार,किरनपाल सिंह चावला, पीयूष अरोरा,जीतू चौबे,मनोज मिश्रा,पीएन बजाज,ओम माखीजा,बृजेंद्र शुक्ला, धीरज रोहरा,जनार्दन प्रसाद श्रीवास,प्रदीप पूरी, अशर्वश्रीवास्तव,उदित सूद, दयानन्द तिवारी व रौशन सिंह मौजूद रहे। समिति की अगली बैठक जिला कार्यालय में रविवार को रखी गई है।

Share with your Friends

Related Articles

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More