Home छत्तीसगढ़ रमन सिंह और भाजपा का छल कपट छत्तीसगढ़ ने देखा है, भोगा है, भुगता है : कांग्रेस

रमन सिंह और भाजपा का छल कपट छत्तीसगढ़ ने देखा है, भोगा है, भुगता है : कांग्रेस

by admin

रायपुर। रमन सिंह के ट्विट में प्रयुक्त तू तड़ाक और तुम्हारें तुम्हें की भाषा पर आपत्ति करते हुये प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष गिरीश देवांगन और प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रमन सिंह जी की शब्दावली से उनकी बौखलाहट स्पष्ट झलक रही है। बहाना बनाना चालाकी करना और धान सड़ाना रमन सिंह जी की भाजपा सरकार का चरित्र रहा है। छत्तीसगढ़ के स्वाभिमान के योद्धा माटी पुत्र मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के चालाकी चतुराई नहीं मेहनत, लगन और संघर्ष पर हमेशा भरोसा किया है। किसानों से और छत्तीसगढ़ की जनता से छल कपट करना तो भाजपा और रमन सिंह जी की फितरत रही है।
भाजपा ने 2013 के घोषणा पत्र में कहा था कि 2100 रू. समर्थन मूल्य देंगे, नहीं दिया। भाजपा ने कहा था कि 5 साल तक 300 रू. बोनस देंगे, नहीं दिया। भाजपा ने कहा था एक-एक दाना धान खरीदेंगे, नहीं खरीदा। भाजपा ने कहा था 5 हार्सपावर पंपों को मुफ्त बिजली देंगे, नहीं दी। भाजपा ने कहा था कि स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशे लागू करेंगे, किसानों को फसल की लागत पर डेढ़ गुना जोड़कर दाम देंगे, नहीं दिया। भाजपा ने कहा था 2022 तक किसानों की आय दुगुनी करेंगे, अभी तक किसानों की आय बढ़ाने के लिये कुछ भी नहीं किया। रमन सिंह सरकार में ही तो कमीशनखोरी, भ्रष्टाचार, झलियामारी, सारकेगुड़ा, नसबंदी कांड, अंखफोड़वा कांड, गर्भाशय कांड, अंतागढ़ कांड, नकली दवाई, दवा खरीदी में घोटाला, मेडिकल उपकरण खरीदी घोटाला, इंदिरा प्रियदर्शनी बैंक घोटाला, रतनजोत घोटाला, 22 लाख फर्जी राशन कार्ड बनाकर मजदूरों के अनाज में हेराफेरी करने वाले 36 हजार करोड़ के नान घोटाला, चना घोटाला, नमक घोटाला, चरण पादुका घोटाला, मोबाईल घोटाला हुआ। आदिवासियों के नाम से योजना बनाकर भारी भ्रष्टाचार कमीशनखोरी किया गया सरकारी खजाने को लूटा गया।
छल कपट कर 15 साल तक रमन सरकार निर्दोष आदिवासियों को जेल में बन्द किया जाता रहा, रमन सिंह सरकार में पांचवी अनुसूची क्षेत्रो को मिले कानूनी अधिकारों को दरकिनार कर ग्राम सभा के अनुमोदन के बिना हजारों आदिवासी से जमीन छीनी गई, रमन सिंह सरकार में नक्सली बताकर आदिवासियों के मासूम बच्चों को मुठभेड़ में मारा गया, झलियामारी बालिका गृह में हुई बलात्कार की घटना, मीना खलखो, पेद्दागेल्लूर, सारकेगुड़ा की घटना, बस्तर क्षेत्र के युवाओं को सरकारी नौकरी से वंचित रखा गया आउटसोर्सिंग से भर्ती कर उनके हक अधिकार को बेचा गया, रमन सरकार के दौरान तेंदूपत्ता संग्राहकों की लाभांश में हेराफेरी की गई, चरणपादुका खरीदने में भ्रष्टाचार किया गया, 5 लाख वनाधिकार पट्टा निरस्त किया गया था, पूर्व की रमन सरकार के दौरान निरन्तर आदिवासी वर्ग पर अत्याचार हुआ उनके अधिकारो का हनन किया गया। आदिवासी कल्याण के नाम से सरकारी योजना बनाकर बंदरबाट किया गया।

झीरम में कांग्रेस नेताओं की पूरी पीढ़ी का नरसंहार भाजपा के छल कपट का सबसे बड़ा जीता जागता सबूत

छल कपट और धोखाधड़ी की भाजपा की रमन सिंह सरकार की राजनीति का पर्दाफाश करते हुए प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष गिरीश देवांगन और प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि या नहीं भुलाया जा सकता कि 25 मई 2013 को कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर सुकमा से वापस लौटते समय ठीक उसी स्थान पर हमला हुआ जहां रमन सिंह सरकार ने सुरक्षा व्यवस्था हटा ली थी और ठीक कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा के दिन सुकमा जिले में विपरीत दिशा में प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने का दिखावा करके पूरा पुलिस बल वहां भेज दिया था। भाजपा सरकार के इस छल कपट की कीमत कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विद्याचरण शुक्ल तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार पटेल महेंद्र कर्मा उदय मुदलियार दिनेश पटेल अभिषेक गोलछा गोपी माधवानी योगेंद्र शर्मा जैसे नेताओं को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी थी। कांग्रेस के हमले के तत्काल बाद रूट परिवर्तन का छल कपट और प्रपंच फैलाने वाले लोग आज कांग्रेस के नेतृत्व पर झूठे आरोप लगाने का दुस्साहस ना करें अन्यथा छत्तीसगढ़ की जनता और किसान उन्हें मुंहतोड़ जवाब देंगे।

Related Posts

Leave a Comment