Home छत्तीसगढ़ निशक्तजनों को निशुल्क ट्रायसिकल वितरण, मकर सक्रांति पर किया गया दिनभर दान कार्यक्रम का आयोजन

निशक्तजनों को निशुल्क ट्रायसिकल वितरण, मकर सक्रांति पर किया गया दिनभर दान कार्यक्रम का आयोजन

by admin

दुर्ग :   दान-पुण्य के सबसे बड़े पर्व मकर सक्रांति के अवसर पर जन समर्पण सेवा संस्था, दुर्ग द्वारा जन सहयोग पूरे दिन भर विभिन्न स्थानों में जरूरतमंदों को जरूरत की सामग्री दान एवं 2 निःशक्त जनों को ट्रायसिकल का वितरण किया गया..
गरीब, असहाय, विकलांगों, गौ माता की सेवा से बड़ा कोई भी कर्म नही है। भले ही आज के भौतिकवादी युग में ये बातें किताबी लगती हो, मगर आज भी समाज ऐसे लोग मौजूद है, जिन्होनें मानवता की सेवा को ही अपने जीवन का उद्देश्य बना रखा है।
जन सर्मपण सेवा संस्था, दुर्ग गरीबों, असहाय, भूखों एवं विक्षिप्त लोगों को खाना खिलाने, उनकी हरसम्भव सहायता करने का कार्य विगत 4 वर्षों से लगातार करती आ रही है।
संस्था के प्रमुख योगेन्द्र शर्मा बंटी ने बताया कि संस्था द्वारा विगत 4 वर्षों से जरूरतमंदों को प्रतिदिन निःशुल्क भोजन के साथ साथ विकलांग जनों को ट्रायसिकल, बैसाखी, व्हीलचेयर, कम्बल, बर्तन आदि उपयोगी सामग्री का वितरण संस्था द्वारा विगत 4 वर्षों से किया जा रहा है।
जन समर्पण सेवा संस्था, दुर्ग जोकि विगत 4 वर्षों से कोई भूखा न सोये इस कार्य कर प्रतिदिन कार्य कर रही है, जिसके चलते प्रतिदिन दुर्ग रेलवे स्टेशन में शहर से लगभग 100 अधिक लोगों को निशुल्क भोजन वितरण कर रही है, संस्था के सदस्य विगत 4 वर्षों से सभी पर्व एवं त्यौहार गरीब, असहाय जरूरतमंदों के साथ ही मानते आ रहे है, दिनांक 14 जनवरी दान-पुण्य के सबसे बड़े पर्व मकर सक्रांति के अवसर पर जन समर्पण सेवा संस्था, दुर्ग द्वारा जन सहयोग पूरे दिन भर विभिन्न स्थानों में सेवा एवं दान का कार्यक्रम की, जिसमें संध्या 5 बजे शहर में रह रहे गरीब, असहाय जनोँ को घूम-घूमकर तिल लड्डू, नमकीन, मुर्रा लड्डू का वितरण किये, संध्या 6 बजे रायपुर नाका चौक, मालवीय नगर चौक, नेहरू नगर चौक में निवास कर रहे लगभग 40 जरूरतमंदों को कम्बल वितरण किया गया।
सन्ध्या 7 बजे मकर सक्रांति के उपलक्ष्य पर संस्था द्वारा 2 निःशक्त जनों (विकलांग जनों) के लिए ट्रायसिकल उपलब्ध कराई गयी।
2 विकलांग जन जोकि बहुत दिनों से प्लेटफार्म एवं फुटपात में रहकर अपना जीवन यापन कर रहे थे, पिछले 2 वर्षों से दिल्ली राजहरा से दुर्ग रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म एवं फुटपात में जीवन यापन करने वाले प्रेमलाल साहू, जिसका एक पैर नही है, एवं एक अन्य विकलांग रतिराम जोकि सेक्टर 6 साई मन्दिर के पास निवास करता है जिसका दोनों पैर काम नही करता है, ये दोनों विकलांग जिसको बहुत दिनों से जन समर्पण सेवा संस्था के युवा सदस्यों द्वारा भोजन दिया जाता आ रहा है, संस्था के सदस्यों ने उन विकलांग जनों की जीवन यापन करने की समस्या को देखते हुए जन सहयोग से 2 ट्रायसिकल विकलाँग जनों को दी गयी।
ट्रायसिकल पाकर दोनों निःशक्त जन (विकलांग) प्रेम लाल साहू, एवं रटीआम बहुत खुश हुए और अब वह खूद ट्रायसिकल चलाकर अपना जीवन यापन के साथ साथ रोज मर्रा का काम कर सकेंगे, एवं खुले आसमान में खुद घूम सकेंगे।
मकर सक्रांति के अवसर पर रात्रि 8 बजे प्रतिदिन की तरह गरीब, असहाय, जरूरतमंद, एवं विकलांग जनोँ को भोजन खिलाया गया, भोजन के साथ साथ सभी को तिल लड्डू, नमकीन, मुर्रा लड्डू का वितरण किया गया।
संस्था के शिशु शुक्ला ने बताया कि संस्था द्वारा 51 विकलांग जनों को बैसाखी, एवं 31 विकलांगों को ट्रायसिकल, 26 विकलांगों को व्हीलचेयर, एवं इस वर्ष ठंड में 910 लोगो को कम्बल, द्वारा 70 से100 लोगो को प्रतिदिन निःशुल्क भोजन के साथ साथ सैकड़ो कपडे, बर्तन एवं अन्य उपयोग की सामग्री का वितरण किया गया है।
मकर सक्रांति के उपलक्ष्य पर आयोजित सभी कार्यक्रम में संस्था के शिशु शुक्ला, आशीष मेश्राम, प्रकाश कश्यप, संजय सेन, राजेन्द्र ताम्रकार, मृदुल गुप्ता, कान्हा चन्द्रवँशी, महेंद्र साहू, शुभम सेन, हरीश ढीमर, सुजल शर्मा, भगवत पटेल, मुकेश पटेल, दद्दू ढीमर, शब्बीर खान, छोटू गुप्ता, शिबू खान, वाशु शर्मा, पूनम नागरे, सुमित वैष्णव, कृतज्ञ शर्मा अनमोल पांडेय, हर्ष जैन, एवं अन्य सदस्य प्रतिदिन उपस्थित हो रहे है।

Share with your Friends

Related Articles

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More