Home छत्तीसगढ़ शासन कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर मातृ शिशु हॉस्पिटल में आज कोविड-19 वैक्सीनेशन का शुभारंभ

कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर मातृ शिशु हॉस्पिटल में आज कोविड-19 वैक्सीनेशन का शुभारंभ

by admin

राजनांदगांव :  सबसे पहले पद्मश्री डॉ. पुखराज बाफना एवं डॉ. उत्तम कोठारी को वैक्सीन लगाया गया
कोरोना वैक्सीनेशन में भागीदारी निभाएं नागरिक – कलेक्टर
-कलेक्टर ने वैक्सीनेशन सेंटर मेडिकल कॉलेज पेण्ड्री और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सोमनी का अवलोकन किया

कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर मातृ शिशु हॉस्पिटल बसंतपुर में आज अंग्रिम पंक्ति के कोरोना योद्धाओं को कोविड-19 वैक्सीन लगाकर शुभारंभ किया गया। सबसे पहले पद्मश्री डॉ. पुखराज बाफना एवं डॉ. उत्तम कोठारी को यह वैक्सीन लगाया गया। इस दौरान कलेक्टर टोपश्वर वर्मा ने कहा कि जिले में कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन का कार्य आज आरंभ किया गया है और निर्धारित सभी केन्द्रों में 100 लोगों का वैक्सीनेशन किया जाना है। कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए चार स्थान शासकीय मेडिकल कालेज पेण्ड्री, मातृ शिशु हॉस्पिटल बसंतपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र डोंगरगढ़ एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सोमनी में निर्धारित किया गया है। यह खुशी की बात है कि आज पहला टीका पद्मश्री डॉ. पुखराज बाफना को लगाया गया है। उनका स्वास्थ्य ठीक है और जिन्हें वैक्सीन लगाया गया है, सभी स्वस्थ एवं सुरक्षित है। जिनका टीकाकरण किया गया है, उन्हें डॉक्टर की निगरानी में आधा घंटे तक रखा जाएगा। उन्होंने सभी नागरिकों से आग्रह किया है कि कोरोना वैक्सीनेशन में भागीदारी निभाएं। पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मी एवं अन्य कोरोना योद्धाओं को लगाया जा रहा है। जिले में लगभग 14 हजार लोगों ने वैक्सीनेशन के लिए पंजीयन कराया है।
वैक्सीनेशन के बाद पद्मश्री डॉ. पुखराज बाफना ने कहा कि देश में हर किसी को कोरोना वैक्सीन लगाना चाहिए, यह पूर्णत: सुरक्षित है। अपने परिवार, प्रदेश एवं देश की सुरक्षा के लिए यह जरूरी है। हमें अपने देश के वैज्ञानिकों की मेहनत का प्रतिफल मिला है और आज यह कोरोना वैक्सीन उपलब्ध हुआ है। उन्होंने कहा कि मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे कोविड-19 का पहला टीका लगाने का अवसर मिला। इसके लिए उन्होंने जिला प्रशासन के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए मन में किसी तरह का संशय नहीं होना चाहिए। डॉ. उत्तम कोठारी ने कहा कि सभी नागरिक टीकाकरण के अभियान में सहयोगी बने। 70 वर्ष की उम्र में मैंने आज यह टीका लगवाया है और मुझे पूरा विश्वास है कि यह टीका सुरक्षित है। डॉ. एएस दीक्षित ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए बहुत अच्छी व्यवस्था यहां की गई है। यह टीकाकरण एक व्यापक अभियान के रूप में चलाया गया है। जिस तरह से यह कार्य किया जा रहा है, उसमें हम अवश्य सफल होंगे। डॉ. एलएस अग्रवाल ने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण हमारे देश की उपलब्धि है। हर नागरिक को वैक्सीनेशन के लिए आगे आना चाहिए। इसके लिए मन में किसी भी तरह का वहम या भय न रखें। स्वास्थ्य विभाग के पीसी जेम्स ने कहा कि मैंने खुद के और देश के हित के लिए कोरोना वैक्सीन लगवाया है, इसके लिए सभी को आगे आना होगा।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी ने कहा कि कोविड-19 का यह वैक्सीन सुरक्षित है। जिससे हम कोरोना की गंभीर बीमारी की रोकथाम कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि वैक्सीन लगाने के बाद भी सभी प्रोटोकाल का पालन अवश्य करें। किसी भी प्रकार का लक्षण या एलर्जी होने पर डॉक्टर को सूचित करें। इस अवसर पर स्वास्थ्य संचालनालय रायपुर से आए संयुक्त संचालक डॉ. सुभाष मिश्रा ने कोरोना वैक्सीन के लिए लोगों को प्रेरित किया।
वैक्सीनेशन के बाद सेल्फी जोन में सेल्फी ले रहे नागरिक-
कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर में वैक्सीनेशन के बाद सेल्फी जोन भी बनाया गया हैं। जहां नागरिक वैक्सीनेशन के बाद सेल्फी भी ले रहे हैं।

मेडिकल कॉलेज पेण्ड्री और सामुदायिक
स्वास्थ्य केन्द्र सोमनी में हो रहा वैक्सीनेशन-
कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने मेडिकल कॉलेज पेण्ड्री और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सोमनी में कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर का अवलोकन किया। इस सेंटर में कोरोना योद्धाओं का वैक्सीनेशन किया जा रहा है। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने कोरोना योद्धाओं से वैक्सीन लगवाने के बाद उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली। वैक्सीन लगवाने के बाद स्वास्थ्य कर्मियों ने बताया कि वे स्वस्थ हैं। उन्हेंं आधे घण्टे डॉक्टर की निगरानी में रखा गया है। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम राजनांदगांव मुकेश रावटे, डिप्टी कलेक्टर बिरेन्द्र सिंह, डॉ. अजय कोसम, डीपीएम गिरीश कुर्रे, टीकाकरण अधिकारी डॉ. बीएल कुमरे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Related Posts

Leave a Comment