Home छत्तीसगढ़ प्रोपेन प्लांट ने हासिल की शून्य दुर्घटना का लक्ष्य

प्रोपेन प्लांट ने हासिल की शून्य दुर्घटना का लक्ष्य

by admin

-‘सुरक्षा जागरूकता सप्ताह’ में महाप्रबंधक मो. नदीम खान के उद्गार

भिलाई/ भिलाई इस्पात संयंत्र के प्रोपेन स्टोरेज एण्ड डिस्ट्रीब्यूशन प्लांट में विगत 18 जनवरी, से 23 जनवरी, 2021 तक ‘सुरक्षा जागरूकता सप्ताह’ का आयोजन किया गया। मोहम्मद नदीम खान महाप्रबंधक (ऑक्सीजन प्लांट-2) आज सम्पन्न समापन समारोह में मुख्य अतिथि थे। दिनेश चंद मिश्रा सहायक महाप्रबंधक (सुरक्षा अभियांत्रिकी विभाग) आयोजन में बतौर विशिष्ट अतिथि शामिल हुए। एम बी सिंह उप प्रबंधक (प्रोपेन संयंत्र) ने आयोजन की अध्यक्षता की। आयोजन में विभागीय सुरक्षा अधिकारी पुरूषोत्तम दास सुंदरानी, वरिष्ठ प्रबंधक भी मंचस्थ थे। इस अवसर पर अतिथियों एवं कार्मिकों को सुरक्षा शपथ दिलाई गई।

मुख्य अतिथि मोहम्मद नदीम खान ने अपने सारगर्भित उद्बोधन में कार्य के दौरान सुरक्षा के प्रति बेहद गंभीरता एवं सतर्कता बरतने का आव्हान् किया। उन्होंने विगत वर्ष 2005 में प्रोपेन संयंत्र की स्थापना से लेकर अब तक इकाई में शून्य दुर्घटना को एक बड़ी उपलब्धि बतलाया। उन्होंने इस उपलब्धि को बिरादरी की सुरक्षा के प्रति जागरूकता का परिचायक बतलाया। उपस्थितजनों से लक्ष्य को हासिल करने के साथ जीवन में सुरक्षा को सदैव ही सर्वोपरि महत्व देने की सलाह भी दी। इसके पूर्व दिनेश चंद मिश्रा ने अपने उद्बोधन में व्यवहार आधारित सुरक्षा पर विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने घर से घर तक सुरक्षा के महत्व को प्रतिपादित किया।

सुरक्षा जागरूकता सप्ताह के समापन समारोह के प्रारंभ में अतिथियों का आत्मीय स्वागत् किया गया। विभागीय सुरक्षा अधिकारी पुरूषोत्तम दास सुंदरानी, वरिष्ठ प्रबंधक ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए सप्ताह के दौरान सुरक्षा संबंधी आयोजनों पर प्रकाश डाला। विभाग में सुरक्षा संबंधी उपायों के क्रियान्वयन के आंकड़े भी प्रस्तुत किये। सुरक्षा जागरूकता सप्ताह के दौरान सुरक्षा पर आधारित फिल्म-जागृति के प्रदर्षन के अलावा अग्नि सुरक्षा एवं व्यवहार आधारित सुरक्षा पर विभिन्न आयोजन संपादित किये गये। समापन समारोह में प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया। कार्यक्रम के अंत में पुरूषोत्तम दास सुंदरानी ने आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में विभागीय कार्मिक तथा ठेका श्रमिक भी उपस्थित थे।

Related Posts