Home व्यापार देश में 5जी नेटवर्क की दौड़ में पिछडी रिलांयस जियो, एयरटेल ने मारी बाजी

देश में 5जी नेटवर्क की दौड़ में पिछडी रिलांयस जियो, एयरटेल ने मारी बाजी

by admin

नई दिल्ली । देश में 5जी की जंग में भारती एयरटेल मुकेश अंबानी की जियो से आगे निकल आई है। भारती एयरटेल हैदराबाद में एक वाणिज्यिक नेटवर्क पर लाइव 5जी सेवा का सफलतापूर्वक प्रदर्शन किया है। ऐसा करने वाली वह की पहली भारतीय टेलिकॉम कंपनी बन गई है। एयरटेल ने ऐसा अपने मौजूदा लिबरलाइज्‍ड स्पेक्ट्रम को 1800 मेगाहर्ट्ज बैंड में एनएसए (नॉन स्टैंड अलोन) नेटवर्क तकनीक के माध्यम से किया।
अपनी तरह के पहले डायनैमिक स्पेक्ट्रम शेयरिंग का उपयोग करते हुए, एयरटेल ने उसी स्पेक्ट्रम ब्लॉक में 5जीऔर 4जी को समवर्ती रूप से संचालित किया। इस प्रदर्शन ने सभी डोमेन -रेडियो, कोर और ट्रांसपोर्ट में एयरटेल के नेटवर्क की 5जी तत्परता को सशक्त रूप से मान्य किया है। मौजूदा टेक्नोलॉजी की तुलना में एयरटेल 5जी10x स्पीड, 10x लेटेंसी और 100x कंसीकरंसी देने में सक्षम है। विशेष रूप से, हैदराबाद में, उपयोगकर्ता 5जी फोन पर महज कुछ सेकंडों में एक पूरी फिल्म को डाउनलोड करने में सक्षम थे। इस प्रदर्शन ने कंपनी की तकनीकी क्षमताओं को रेखांकित किया है। हालांकि 5जी अनुभव का पूर्ण प्रभाव, हमारे ग्राहकों के लिए तब उपलब्ध होगा, जब पर्याप्त स्पेक्ट्रम उपलब्ध होगा और सरकार की मंजूरी मिल जाएगी।
भारती एयरटेल के एमडी और सीईओ गोपाल विट्ठल ने कहा, मुझे अपने उन इंजीनियरों पर गर्व है जिन्होंने आज हैदराबाद के तकनीकी शहर में इस अविश्वसनीय क्षमता के प्रदर्शन के लिए अथक प्रयास किए हैं। हमारे हर एक निवेश को भविष्य में प्रमाणित किया जाता है, क्योंकि हैदराबाद में यह गेम चेंजिंग टेस्ट साबित हुआ है। एयरटेल इस क्षमता को प्रदर्शित करने वाला पहला ऑपरेटर बन गया है।साथ हमने फिर से दिखा दिया है कि हम भारत में हमेशा से हर जगह भारतीयों को सशक्त बनाने की अपनी खोज में नई तकनीकों का नेतृत्व करने में सबसे आगे रहे हैं।’ विट्ठल ने कहा कि हमारा मानना है कि भारत में 5जी इनोवेशन लिए एक वैश्विक केंद्र बनने की क्षमता है। ऐसा करने के लिए हमें एप्लिकेशन, डिवाइस और नेटवर्क इनोवेशन को एक साथ लाने के लिए इकोसिस्टम की आवश्यकता है। हम अपनी तरफ से योगदान करने के लिए पहले से कहीं ज्‍यादा तैयार हैं।

Share with your Friends

Related Articles

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More