Home छत्तीसगढ़ पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुक़ाबले मुनाफ़े में दर्ज की वृद्धि-सेल

पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुक़ाबले मुनाफ़े में दर्ज की वृद्धि-सेल

by admin

सेल ने वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही के दौरान कर-पूर्व 3645 करोड़ रुपये का मुनाफ़ा दर्ज किया

दुर्ग-भिलाई :- (नई दिल्ली) देश की महारत्न कंपनी स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने 31 दिसंबर, 2020 को मौजूदा वित्त वर्ष 2020-21 के समाप्त हुए तिमाही और नौमाही के वित्तीय नतीजों की आज घोषणा की।
सेल के मौजूदा वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही के नतीजों के प्रमुख बिन्दु इस प्रकार हैं:
तीसरी तिमाही के दौरान पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुक़ाबले 12% वृद्धि के साथ 48 लाख टन हॉट मेटल (Hot Metal) का उत्पादन
तीसरी तिमाही के दौरान पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुक़ाबले 9% वृद्धि के साथ 43.7 लाख टन क्रूड स्टील (Crude Steel) का उत्पादन
तीसरी तिमाही के दौरान पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुक़ाबले 6% वृद्धि के साथ 41.5 लाख टन विक्रेय इस्पात (Saleable Steel) का उत्पादन
तीसरी तिमाही के दौरान पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुक़ाबले करीब 1% वृद्धि के साथ 41.5 लाख टन का कुल विक्रय (घरेलू और निर्यात मिलाकर)

*10 लाख टन = 1 मिलियन टन

वित्त वर्ष ’21 में वित्तीय प्रदर्शन
तीसरी
तिमाही ’21 तीसरी तिमाही ’20 % वृद्धि नौमाही ’21 नौमाही ’20 % वृद्धि
कारोबार 19614 16405 19.6% 45286 45001 0.6%
एबिटडा (EBITDA)
5294 1186 346.4% 7267 4267 70.3%
कर-पूर्व लाभ (PBT)
3645 (591) 716.3% 2271 1011 124.7%
कर-पश्चात लाभ (PAT) 1283 (430) 398.7% 406 (704) 157.7%

** करोड़ रुपये में
कोविड-19 महामारी के दौरान थोड़े समय के लिए एक ठहराव के बाद, देश भर की समग्र आर्थिक गतिविधियों में एक बड़ा बदलाव आया है। खासतौर पर बुनियादी संरचना, निर्माण, विनिर्माण और ऑटोमोबाइल जैसे क्षेत्रों में तेजी से रिकवरी देखने को मिली है। ये इस्पात का सबसे अधिक इस्तेमाल करने वाले क्षेत्रों में से हैं, इसलिए इनकी रिकवरी से इस्पात की मांग बढ़ने में मदद मिली है। देश के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए सरकार के ठोस उपायों ने घरेलू इस्पात क्षेत्र के लिए बेहतर मांग पैदा करने में मदद की है।
सेल अध्यक्ष श्रीमती सोमा मण्डल ने कंपनी के वित्तीय नतीजे पर कहा, ”इसमें कोई दो राय नहीं है कि हम एक बेहतर कल की ओर बढ़ रहे हैं। सेल ने कई चुनौतियों के बावजूद चालू वित्त वर्ष के दौरान लगातार समग्र सुधार करके दिखाया है। कंपनी ने अवसरों को लाभ में बदलने की नीति पर फोकस करते हुए, अन-लॉकडाउन की प्रक्रिया के शुरू होने के साथ – साथ स्टील की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए हर तरह से तैयार था। सेल हमेशा से बाज़ार की स्थिति के अनुसार अपने बिजनेस के तालमेल बैठाने की रणनीति पर काम करता है। जहां तक आने वाले समय का सवाल है, हम मौजूदा वित्त वर्ष के बाकी बचे समय में अपने प्रदर्शन को और बेहतर बनाने के लिए पूरी तरह से संकल्पबद्ध हैं।”

Share with your Friends

Related Articles

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More