Home छत्तीसगढ़ कोरोना को हराने में सभी की सहभागिता जरूरी : मंत्री गुरु रूद्रकुमार

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जनप्रतिनिधियों के साथ की वर्चुअल बैठक
रायपुर. लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने आज बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर विधानसभा अहिवारा के जनप्रतिनिधियों के साथ वर्चुअल बैठक की। मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने क्षेत्र के कोरोना पीड़ितों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए जरूरी कदम उठाने की बात कही। बैठक के दौरान सभी जनप्रतिनिधियों ने बारी-बारी से अपने-अपने क्षेत्र की चिकित्सा सुविधा के बारे में विस्तार से जानकारी दी और उसको बेहतर बनाने का भी आग्रह किया। मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के सुझाव पर यथा संभव कार्रवाई की बात कही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए चिकित्सा संबंधी बेहतर से बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करा रही है। इस विषम परिस्थिति में कोरोना संक्रमण को रोकने सामाजिक संगठनों, समाज प्रमुखों और जनप्रतिनिधियों द्वारा बढ़-चढ़कर सहभागिता निभाई है यह सराहनीय है।

इस वर्चुअल बैठक में दुर्ग के जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री देवेन्द्र देशमुख ने विधायक निधि मद से नगर निगम भिलाई-चरोदा, जामुल नगर पालिका और अहिवारा नगर पालिका परिषद में एक-एक ऑक्सीजन युक्त एम्बुलेंस तथा शव वाहन उपलबध कराने और भिलाई-3 स्थित कुर्मी समाज के सामुदायिक भवन (मंगल भवन) को कोविड सेंटर बनाने व कोरोना से मृत व्यक्ति के अंतिम संस्कार के लिए मुक्तिधाम में लकड़ी की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए मंत्री गुरू रूद्रकुमार का आभार व्यक्त किया। जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती शालिनी यादव ने होम आइसोलेशन वाले मरीजों को दवाईयों की पूरी डोज देने के संबंध में और जनप्रतिनिधियों से संक्रमित परिवार से सतत संपर्क बनाकर उनका हौसला बढ़ाने बात कही। इसी तरह धमधा जनपद पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती सरस्वती रात्रे ने लोगों को वैक्सीन लगाने के भय को दूर करने के लिए गांव-गांव में विभिन्न माध्यमों से जनजागरूकता लाने की बात कही।

बैठक में मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने जनप्रतिनिधियों द्वारा उनकी मांगों और उनकी सुझावों के संबंध में कहा कि 15वें वित्त योजना व 14वें वित्त योजना अंतर्गत स्वास्थ्य के क्षेत्र में राशि खर्च करने का प्रावधान है। पंचायत स्तर पर इन योजनाओं की राशि का उपयोग कोविड-19 महामारी से निपटने कर सकते हैं। इसके अंतर्गत दवाईयों की किट, सेनेटाईजर, मास्क वितरण और अन्य कोरोना संक्रमण संबंधी रोकथाम कार्य भी किए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में एक क्विंटल चावल रखे जाने का प्रावधान है। कोरोना संकट काल को देखते हुए इसका वितरण निराश्रितों एवं जरूरतमंदों को किया जाना चाहिए। मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने आगे कहा कि ग्राम पंचायत अंतर्गत जरूरतमंद व्यक्तियों और परिवारों को खाद्यान्न उपलब्ध कराना ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है।

मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने बताया कि अहिवारा विधानसभा क्षेत्र के कोरोना संक्रमित लोगों की सहायता के लिए हेल्पलाइन नंबर 0771-2420707 जारी किया है। यह हेल्पलाइन नंबर उनके रायपुर स्थित शासकीय निवास में स्थापित किया गया जिसका उपयोग कार्यालयीन समय में किया जा सकेगा। मंत्री बैठक में जिला पंचायत सदस्य, जनपद सदस्य, सरपंच संघ के अध्यक्ष श्री झुमुक लाल साहू सहित 62 गांवों के सरपंच शामिल हुए।

Share with your Friends

Related Articles

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More