Home खास खबर *डेंगू को लेकर रिसाली निगम हुआ गंभीर अधिकारी और  कर्मचारी रोज कर रहे हैं जांच,*

*डेंगू को लेकर रिसाली निगम हुआ गंभीर अधिकारी और  कर्मचारी रोज कर रहे हैं जांच,*

by admin

रिसाली / मच्छर के स्त्रोत माने जाने वाले अण्डा और लार्वा को समाप्त करने नगर पालिक निगम रिसाली के आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे व जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. सी. बी. सी. बंजारे के नेतृत्व में अभियान शुरू किया गया। मच्छर का लार्वा मिलने पर पांच घरों से एक-एक हजार जुर्माना किया। वही आयुक्त ने ऐसे आठ व्यक्तियों को नोटिस जारी करने निर्देश दिए जिन्होंने मौके पर अर्थदण्ड की राशि जमा नही की।

      मच्छर से होने वाले जानलेवा बीमारी मलेरिया, डेंगू और फाइलेरियां से आम लोगों को बचाने रिसाली निगम क्षेत्र में महाअभियान शुरू किया गया। आजाद मार्केट चैक से रैली की शक्ल में टीम में शामिल 50 से भी अधिक सदस्य रिसाली निगम क्षेत्र में भ्रमण की। पहले गुमटी नुमा टायर, फल व खाने पीने लगाए जाने वाले स्टाल के आस पास जांच की। इसके बाद रिसाली सेक्टर के बीएसपी आवास और पॉश कालोनी मैत्री नगर के घरों में जांच की। इस दौरान मच्छर का लार्वा कूलर, गमले व डस्टबीन में मिलने पर रिसाली सेक्टर निवासी उपेन्द्र सिंह, हरिराज चिकन सेंटर, सुरेश जोशी, पंकज साहू, संजय साहू, मैत्री नगर निवासी समीर साहू से एक-एक हजार जुर्माना लिया। टीम में निगम के नोडल अधिकारी रमाकांत साहू, स्वास्थ्य विभाग के निरीक्षक बृजेन्द्र परिहार, प्रभारी उपअभियंता, गोपाल सिन्हा, जिला मलेरिया विभाग के कर्मचारी समेत भिलाई इस्पात संयंत्र के अधिकारी शामिल थे।
इन्हे मिला नोटिस:-
           पहले दिन रिसाली सेक्टर और मैत्री नगर के 50 घरों में दी गई दबिश में छत व खिड़की में लगे कूलरों में मच्छर का लार्वा मिला। मौके पर जुर्माना नही देने पर के के वर्मा, अजय शर्मा, एल एच भूतड़ा, आर आई रेडे, एस के जैन, एस बी भट्टाचार्य, जी आर देवांगन, संगम स्टूडियों, विकास प्रोहिजन स्टोर्स को नोटिस जारी किया गया।
  चिकन सेंटर में मख्खी:-
           जांच के दौरान अधिकारियों की टीम आजाद मार्केट चैक स्थित हरिराज चिकन सेंटर पहुंची। यहां चिकन पर मख्खी मंडराते देख अधिकारियों ने दुकान संचालक को जमकर फटकार लगाया। साथ ही स्वच्छता नियमों की अनदेखी करने पर एक हजार जुर्माना वसूला।
         आप रहे सावधान: एक बार में 200 अंडे देती है मच्छर
          जिला मलेरिया अधिकारी सी. बी. सी. बंजारे ने बताया कि मच्छर के अण्डे से लार्वा और मच्छर पनपने में 7 दिन का समय लगता है। ऐसे में सावधानी ही बचाव है। कूलर की नियमित सफाई नहीं करने से अंडा कोने में रह जाता है। यह अंडा 6 माह बाद भी सक्रिय हो जाता है जो बेहद खतरनाक है। मच्छर एक बार में 200 अंडा देती है। अंडा से लार्वा व मच्छर पनपकर जानलेवा बीमारी फैलाती है।
राज्यसभा सांसद के निवास में फागिंग:-
                 निगम व जिला स्वास्थ्य विभाग की टीम राज्यसभा सांसद सरोज पाण्डेय के मैत्री नगर स्थित आवास पहुंची। यहां अधिकारियों ने फागिंग मशीन से पहले धुंआ किया फिर संभावना को देखते हुए अंडा व लार्वा नष्ट करने स्प्रे भी किया। मार्केट व रिहायशी क्षेत्र के नाली व खुली जगह ठहरे हुए पानी में स्प्रेकर नागरिकों को टेमीफॉस की शीशी दी गई।
जाने मलेरिया के लक्षण: –

                 बुखार, ठण्ड लगना, कपकपी, सिरदर्द, उल्टियां आना, जी मिचलाना एवं गंभीर मलेरिया में बेहोशी अथवा झटके आना।
डेंगू के लक्षण:-

अचानक तेज बुखार, तेज सिर दर्द, मांसपेशियों तथा जोड़ों में दर्द, आंखों के पीछे दर्द, जी मिचलाना, आंतरिक रक्त स्त्राव, त्वचा में चकत्ते नाक, मुंह मसूड़ों से खूना आना व उल्टियां की शिकायत होती है।
वर्जन:-
           मच्छर जनित रोग के लिए जुलाई- अगस्त का माह अनुकूल रहता है। पूरे जिले में अभियान चलाया जा रहा है। लोगों को समझाईश दी जा रही है। इसके बाद भी लापरवाही बरतने और घर पर लार्वा मिलने पर पहली बार में एक और दूसरी बार 5 हजार जुर्माना वसूलने का प्रवधान है।
सीबीएस बंजारे, जिला मलेरिया अधिकारी:-
              निगम क्षेत्र में लगभग 26 हजार से अधिक घर हैं हमारे कर्मचारी घर-घर पहुंचकर कूलर की जांच कर टेमीफास का वितरण कर रहे हे। जहां पानी जमा है वहां पर ट्रीटमेंट कर रहे है। लोगों में जागरूकता आए इसके लिए प्रचार रथ के साथ ही पाम्पलेट वितरण किया जा रहा है।

Share with your Friends

Related Articles

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More