Home छत्तीसगढ़ कांग्रेसी, बोलते कुछ है और करते कुछ : बृजमोहन

कांग्रेसी, बोलते कुछ है और करते कुछ : बृजमोहन

by Surendra Tripathi
कांकेर। भानुप्रतापपुर उपचुनाव में जैसे-जैसे दिन कम होते जा रहे है, वैसे-वैसे चुनावी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओं की सक्रियता बढ़ती जा रही है। भानुप्रतापपुर विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं द्वारा हाराडुला मंडल में कार्यकर्ता सम्मेलन एवं चारामा मंडल में एक बड़ी जनसभा का भी आयोजन किया गया। जिसमें भाजपा, छत्तीसगढ़ के सभी दिग्गत नेता नजर आए। हाराडुला में वहाँ के प्रभारी नारायण चंदेल जी के साथ मंच पर पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, प्रेम प्रकाश पांडेय, नारायण चंदेल, संतोष पांडेय, एवं अन्य नेता जी मौजूद रहे। वहीं चारामा मंडल की जनसभा के दौरान प्रत्याशी ब्रम्हानंद नेताम के साथ पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह, बृजमोहन अग्रवाल, धरम लाल कौशिक, मोहन मंडावी, देवराज दुग्गा, रजनीश सिंह, रंजन साहू, शालिनी राजपूत, जामवंत महावीर सिंह राठौर, इंद्र चोपड़ा, सतीश गाटके एवं अन्य नेता उपस्थित रहे।
इस दौरान पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कार्यकर्ताओं और जनता को संबोधित करते हुए कहा कि इस सरकार ने 10 लाख नौकरी देने का वादा किया था, पर आप में से किसी को मिली क्या..? किसानों का कर्जा माफ करने को कहा था, किसी का हुआ क्या..? इस सरकार ने कर्जा तो माफ नहीं किया उल्टा इस प्रदेश के हर व्यक्ति को लगभग 50 हजार रुपये के कर्ज में डाल दिया।
अग्रवाल जी ने आगे कहा कि ये हमसे महंगाई की बात करते हैं, मोदी जी ने जब पेट्रोल-डीजल के दाम कम किये तब राज्य सरकार ने टैक्स क्यों नहीं कम किया। मोदी जी ने धान समर्थन मूल्य 500 रुपये बढ़ा दिए, इस सरकार ने 500 रुपये क्यों नही बढ़ाया..।
इस उपचुनाव के दौरान कोई भी कांग्रेस का नेता या कार्यकर्ता आपसे वोट मांगने आये तो उससे पूछिये की घोषणा पत्र के वादों में से आपकी सरकार ने कितने वादे पूरे किए, क्योंकि ये पूछना आपका हक़ है।
केंद्र की सरकार पर बस आरोप लगाने वाले ये लोग जान ले कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने सभी लोगों को फ्री में गैस कनेक्शन दिया, इस कांग्रेस सरकार ने तो वादा किया था कि सरकार बनी तो 4 गैस सिलेंडर देगी पर दिया क्या ..? नहीं दिया। कालनेमी राक्षस की प्रवृत्ति वाले ये लोग, बोलते कुछ है और करते कुछ..। इनके कथनी और करनी में बहुत अंतर है।
उपचुनाव प्रभारी बृजमोहन अग्रवाल ने सत्ताधारी पार्टी और आरोप लगाते हुए कहा कि, मुझे पता चला है कि वन विभाग व स्वास्थ्य विभाग के गाड़ियों से शराब और साड़ियां बांटी जा रही है। मैं इस सरकार के कर्मचारियों को चेतावनी देता हूँ कि ये धंधा बंद करो, नहीं तो एक-एक लोगों को पकड़ के उन्हें सबक सिखाया जाएगा। साथ ही कांग्रेस पार्टी को चुनौती देता हूँ कि अगर दम है तो चुनाव के मैदान में अगके चुनाव लड़ो, निष्पक्ष चुनाव लड़ो। मैं भानुप्रतापपुर की जनता से भी यह अपील करता हूँ कि ये चुनाव निष्पक्ष होना चाहिए।
इस सरकार की भ्रष्ट नीतियों का पर्दाफ़ाश करना है। इसलिए हमें अपने सभी रिश्तेदारों-नातेदारों दोस्त, मित्र सबको समझाना है। इस झूठी, बेईमान सरकार को सबक सिखाना है, भाजपा को जिताना है।

Related Posts