Home छत्तीसगढ़ बीएसपी सीएसआर का ग्राम नंदौरी में गोदना शिल्प का प्रशिक्षण शिविर आयोजित

बीएसपी सीएसआर का ग्राम नंदौरी में गोदना शिल्प का प्रशिक्षण शिविर आयोजित

by Surendra Tripathi

भिलाई महिला समाज की अध्यक्ष श्रीमती त्रिपर्णा दासगुप्ता ने प्रतिभागियों का बढ़ाया उत्साह

सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र के निगमित सामाजिक उत्तरदायित्व विभाग द्वारा छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के सहयोग से ग्राम नंदौरी, धमधा, जिला-दुर्ग में गोदना शिल्प प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस शिविर में 1 दिसम्बर 2022 को भिलाई महिला समाज ने संस्था की अध्यक्ष श्रीमती त्रिपर्णा दासगुप्ता के नेतृत्व में प्रशिक्षण ले रही महिलाओं से मुलाकात की और उनका उत्साहवर्धन किया।

इस अवसर पर भिलाई महिला समाज की अध्यक्ष श्रीमती त्रिपर्णा दासगुप्ता, उपाध्यक्ष श्रीमती नीरजा कुमारी सिंह, अतिरिक्त उपाध्यक्ष श्रीमती मैत्रेयी सूत्रधार, अतिरिक्त उपाध्यक्ष श्रीमती प्रणति मुखर्जी, अतिरिक्त उपाध्यक्ष श्रीमती मौली चक्रवर्ती के साथ महासचिव श्रीमती रत्ना रानी डोकानिया, कोषाध्यक्ष श्रीमती गायत्री साहू, सहकोषाध्यक्ष श्रीमती मउ रे उपस्थित रही। प्रारंभ में ग्राम नंदौरी की प्रशिक्षण प्राप्त कर रही महिलाओं ने अतिथियों का तिलक लगाकर और पुष्पगुच्छ से स्वागत किया।

भिलाई महिला समाज की अध्यक्ष श्रीमती त्रिपर्णा दासगुप्ता ने इन महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि यह एक अच्छी बात है कि आप सभी इस कला को बेहतर ढंग से सीख रहे है। यह कला धीरे-धीरे लुप्त हो रही है जिसे जीवित रखने में आप सभी महत्वपूर्ण योगदान दे सकते है। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम इस कला को जीवंत बनाने में एक मील का पत्थर साबित होगा। मैं आपके उज्जवल भविष्य की कामना करती हूँ।

गोदना शिल्प का प्रशिक्षण छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के माध्यम से उपलब्ध कराए प्रशिक्षक श्रीमती बीजू बावरे और श्री शरद एवं श्री नितिन द्वारा प्रदान किया जा रहा है। यह प्रशिक्षण 3 महीनों तक चलेगा। इस प्रशिक्षण में ग्राम नंदौरी की 25 महिला हितग्राहियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण लेने वाली इन महिलाओं को प्रशिक्षण के साथ निःशुल्क उपकरण और 3000 रूपये प्रतिमाह की दर से छात्रवृत्ति प्रदान की जा रही है। यह गोदना शिल्प कपड़े पर किये जाने वाली एक विशेष हस्तशिल्प कला है और इसको विकसित करने की दृष्टि से यह शिविर आयोजित किया गया।

भिलाई इस्पात संयंत्र के निगमित सामाजिक उत्तरदायित्व विभाग द्वारा इसके पूर्व भी ग्राम डुंडेरा में बांस कला शिविर और ग्राम खम्हरिया में ड्राय फ्लावर बनाने का शिविर आयोजित किया जा चुका है। आगामी दिनों में 3 गांवों में जूट शिल्प, शीषल शिल्प का प्रशिक्षण शिविर आयोजित करने की योजना है। इन शिविरों के सफल आयोजन में सीएसआर के श्री विवेक मिश्रा तथा श्री बुधेलाल ने महत्वपूर्ण योगदान दिया। कार्यक्रम का संचालन सीएसआर विभाग की श्रीमती रजनी रजक ने किया और सहायक प्रबंधक श्री विवेक मिश्रा ने कार्यक्रम का संयोजन किया।

Related Posts