Home छत्तीसगढ़ किसान पहले साहूकार के घर जाते थे, अब बैंक जाते हैं: CM बघेल

किसान पहले साहूकार के घर जाते थे, अब बैंक जाते हैं: CM बघेल

by Surendra Tripathi

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के किसान खेती की जमीन खरीद रहे हैं, खेती-किसानी में निवेश कर रहे हैं और अपने बच्चों का भविष्य गढ़ रहे हैं। पहले किसान साहूकार के घर जाते थे, अब बैंक में उनका पैसा जमा रहता है। किसानों को योजनाओं के माध्यम से दिया जा रहा पैसा बैंकिंग सिस्टम में आ रहा है, इससे विकास तेज होगा, ये किसानों की समृद्धि लाने का बड़ा परिवर्तन है। मुख्यमंत्री श्री बघेल आज भेंट-मुलाकात में बेमेतरा जिले की नवागढ़ विधानसभा के ग्राम-दाढ़ी में आम जनता को संबोधित कर रहे थे।मुख्यमंत्री ने कहा है कि राज्य सरकार की किसान हितैषी योजनाओं से छत्तीसगढ़ के किसानों की स्थिति में बड़ा बदलाव आया है, हमारा प्रदेश धान का कटोरा है, फिर भी कुछ समय पहले तक हमारे प्रदेश में यह स्थिति थी कि लोगों को खेती छोड़नी पड़ रही थी। लेकिन अब ऐसा नहीं है। छत्तीसगढ़ के किसान खुशहाल हैं। खेती में निवेश कर रहे हैं। बाइक ले रहे हैं। ये खुशहाली का सिलसिला जारी रहेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज नवागढ़ विधानसभा के दाढ़ी गांव में आया हूँ। यहां आने का उद्देश्य यह देखना है कि हमारी योजनाओं का लाभ जमीनी स्तर पर लोगों को किस प्रकार से मिल पा रहा है। मंत्रालय के अधिकारी और विधानसभा के सदस्य भी साथ हैं। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य जनता से संवाद करना है। और इस तरह से प्रदेश को निरंतर विकास के रास्ते में ले जाना है।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कर्ज माफी और धान खरीदी पर चर्चा करते हुए कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना की चौथी किश्त 31 मार्च को देंगे। कोरोना के बाद भी हमने आपके लिए हितकारी योजनाओं को जारी रखा। बहुत कठिन स्थिति थी फिर भी हमने किश्त देना जारी रखा। राजीव गांधी जी के शहादत के दिन पहला किश्त दिया, तीजा के समय, फिर धान लुवाई के समय और उन्हारी के समय चौथी किश्त मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेमेतरा में यह समय बहुत खूबसूरत होता है,पपीता, गन्ना, केला की फसल होती है। मैंने नवागढ़ में देखा कि कहीं भी पैरा नहीं जलाया गया। मैंने आपसे अपील की और आपने सम्पूर्णतः इसे माना, इसके लिए आपको बधाई।

भेंट-मुलाकात में राजीव युवा मितान क्लब उमरिया के पन्ना लाल ने मुख्यमंत्री को राजीव युवा मितान क्लब की गतिविधियों बारे में बताते हुए कहा कि पहले इतनी सुंदर योजना नहीं थी। हम लोगों ने इसकी राशि से रामायण कराया। छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के बारे में राधिका ने बताया कि मैंने बरसों बाद खेल खेला, फुगड़ी खेली। मेरे बच्चों ने भी खेला। बहुत आनंद आया। प्रदीप पाठक ने बताया कि हम लोगों ने गांव में खेल कराया। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि राजीव युवा मितान क्लब को 12 जनवरी को किश्त देंगे।

Related Posts